लखनवी विविधता की अनुभूति (Exploring Lucknow day 1)

Sudhir-Sahu-Travel-Blogger

Sudhir Sahu

रविवार की शाम को मैं अपने माता पिता के साथ, लखनऊ इस्कॉन मंदिर गया। भाग्यवश उस दिन बहुत सुहाना मौसम था, हम वहां पर लगभग सायं छः बजे पहुंचे थे। मुझे इस मंदिर में हर एक चीज पसंद है, जैसे की वहां का बगीचा अत्यन्त सुन्दर है। उसी बगीचे में छोटे छोटे फव्वारे बड़े ही प्यारे लगते हैं।.यदि आप कभी किसी इस्कॉन मंदिर गए होंगे तो शायद आप इन सब बातों ,का अनुभव बहुत अच्छे से कर सकेंगे। पुराने लोग कहते हैं जितनी भी ईश्वरीय जगहें होती है वहाँ कुछ ऐसा होता है कि आपको बड़ा ही सकारात्मक अनुभव होता है।

पहुँचने का तरीका: इस्कॉन लखनऊ, शहीद पथ पर स्थित सुशांत गोल्फ सिटी के अंदर है। बेहतर होगा की आप टैक्सी या फिर अपने किसी व्यक्तिगत साधन से जाएँ क्योंकि वहां पर कोई और व्यवस्था उपलब्ध नहीं है।

अभी इस मंदिर का निर्माड़ कार्य जारी है। फिलहाल के लिए एक अस्थायी व्यवस्था की गयी है।

यदि आपको सच में ईश्वरीय आस्था की अनुभूति करनी है तो बेहतर होगा की आप रविवार के दिन ही यहाँ जायें। इस दिन लगभग पूरे दिन यहाँ पर उत्सव जैसा माहौल रहता है। यदि आप यहाँ की संध्या आरती में शामिल हो सके तो और भी बेहतर होगा।

यहाँ की मूर्तियां बेहद बहुत ही सुन्दर हैं। इसके साथ जो बात यहां की सबसे ज्यादा भावविभोर करने वाली है वो है यहाँ का ईश्वरीय भजन ........

हरे कृष्ण हरे कृष्ण। कृष्ण कृष्ण हरे हरे। हरे राम हरे राम। राम राम हरे हरे।

विश्वास कीजिये यदि आप थोड़ी देर बैठ कर आप इस भजन में अपने आप को डुबोने की कोशिश करेंगे तो आप सचमुच में इस ईश्वरीय मंत्र में अपने आप को खोया हुआ महसूस करेंगे और आपको एक असीम आनंद की अनुभूति होगी।

इस स्थान पर आपको एक बार तो अवश्य ही जाना चाहिए।

लखनवी विविधता की अनुभूति (Exploring Lucknow day 1)


लखनवी विविधता की अनुभूति (Exploring Lucknow day 1)

लखनवी विविधता की अनुभूति (Exploring Lucknow day 1)

लखनवी विविधता की अनुभूति (Exploring Lucknow day 1)


POST
Abhishek-Kumar-Travel-Blogger
How is Prasadam here? Usually prasad at ISCON are delecious... I loved that.
Abhishek-Agarwal-Travel-Blogger
areee wah!!! hindi mein ..awesome...great!!
Mohan-Agarwal-Travel-Blogger
Excellent. Emotinal